Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana: प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना क्या है?इसका लाभ कैसे उठायें

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana: केंद्र सरकार तरह-तरह की योजनाये लाती रहती है जिसमे लाखो गरीब लोगो को बहुत फायदा होता है। ऐसे लोग जिनकी आर्थिक स्थिति सही नहीं है । सरकार उनका बहुत ख्याल रखती है। ये योजना महिलाओ के लिए है। इस योजना से गर्भवती महिलाओ और स्तन पान कराने वाली माताओ को 6000 रूपये कि राशी बैंक खाते में सीधे भेज दी जाएगी । प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ पहले जीवित बच्चे को जन्म देने पर ही गर्भवती महिला को प्राप्त होगा। गर्भवती महिला कि उम्र 19 साल या उससे अधिक होनी चाहिए।

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का उदेश्य

मजदूरी करने वाली महिलाओ को उनके काम के लिए हुए नुकसान कि भरपाई करने के लिए मुआवजा देना । गर्भवती महिलाओ और स्तनपान कराने वाली महिलाओ और उनके बच्चे को कुपोषित होने से बचाना। साथ ही गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओ को बेहतर स्वास्थ्य और पोषण के लिए नकद प्रोत्साहन प्रदान करना।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का आवयश्क दस्तावेज

  • माता-पिता का आधार कार्ड
  • माता-पिता का पहचान पत्र
  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  • बैंक खाते कि पास बुक

सरकार निम्लिखित किस्तों में भुगतान करेगी

पहली क़िस्त: 1000 गर्भावस्था के पंजीकरण के समय।

दूसरी क़िस्त: 2000 रुपये तब 6 महीने कि गर्भावस्था के बाद कम से कम एक प्रसवपूर्व जाँच कर लेते है।

तीसरी क़िस्त: 2000 जब बच्चे का जन्म पंजीकृत हो जाता है। और बच्चे को BCG, OPV, DPT और हेपेटाइटिस-B सहित पहले टीके का सही चक्र शुरू होता है।

Note: बचे 1000 रुपये सरकार तब देगी अगर कोई गर्भवती महिला अपने बच्चे को किसी अस्पताल में जन्म देती हो या जननी सुरक्षा की लाभार्थी हो।

आवेदन कैसे करें?

जो भी गर्भवती महिला इस योजना में आवेदन करने कि इस्छुक है। उन्हें आंगनवाडी तथा स्वास्थ्य केंद्र में जाकर तीन आवेदन फॉर्म भरने होंगे। पंजीकरण फॉर्म भरकर निकट के आंगनवाडी तथा स्वास्थ्य केंद्र में जाकर जमा करदें। इस योजना के अंतर्गत महिला तथा बाल विकास मंत्रालय नोडल एजेंसी की तरह काम कर रही है। प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ सभी गर्भवती महिलाओ को मिल रहा है।

और भी जाने:

Leave a Comment