Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana (PMMSY): सरकार दे रही है 3 लाख की आर्थिक सहायता, ऐसे करें आवेदन

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana (PMMSY): सरकार दे रही है 3 लाख की आर्थिक सहायता, ऐसे करें आवेदन

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana: दोस्तों! सरकार ने एक बहुत ही शानदार योजना (Scheme) का लोकार्पण किया है। जिसका नाम प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (PMMSY) है।

केंद्र सरकार (Central Government) की यह बहुचर्चित योजना (Scheme) पूरे 5 साल तक के लिए लागू की गई है। मतलब आपको इस योजना का लाभ अगले 5 साल तक मिलने वाला है। अगर आँकड़ो की बात करें तो इस PMMSY को वित्तीय वर्ष 2020-21 से लेकर 2024-25 तक जारी रखा जाएगा।

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana (PMMSY)

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana (PMMSY)

Brief Facts about PM Matsya Sampada Yojana

Launch Date10th September 2020
Concerned Government DepartmentDepartment of Fisheries
Tenure2020-2025
BeneficiariesFishersFish farmers(Fish workers and Fish vendorsFisheries Development corporationsSelf Help Groups (SHGs)/Joint Liability Groups (JLGs) in the fisheries sectorFisheries cooperativesFisheries FederationsEntrepreneurs and private firmsFish Farmers Producer Organisations/Companies (FFPOs/Cs)SCs/STs/Women/Differently abled persons
Direct Linkhttp://dof.gov.in/pmmsy

किसे मिलेगा इस योजना का लाभ? (Who will get the benefit of this Scheme)

यह योजना (PMMSY) खाश कर मछली पलकों के लिए है। इसके तहत सरकार मछली पालक को 3 लाख का लोन (Loan) देने का प्रावधान किया है। इन योजना का लाभ मछली पालन से जुड़े श्रमिक से लेकर मछली विक्रेताओं तक, मछली पालन संघ से लेकर मछली किसान उत्पादक संगठन तक ले सकते हैं।

कितने रुपयों का प्रावधान? (How much Provision is given)

दोस्तों! प्रधानमंत्री ने इस मत्स्य सम्पदा योजना (Matsya Sampada Yojana) के लिए लगभग 20,050 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है जिससे साफ जाहिर होता है सरकार का प्रयास हर जरूरतमंद को सहायता प्रदान करना है।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य मछली पालन (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana) को बढ़ावा देना है और इसके साथ ही मछली उत्पादन के विकास को भी सुनिश्चित करना है। दोस्तों आपको यह भी बता दूँ की मछली उत्पादन का व्यवसाय नीली क्रांति के अंतर्गत आता है। साथियों! कभी-कभी इस बात को प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पूछ लिया जाता है। 

States/UTsFunding PatternContribution
General States50:50 Centre and General StatesCentre Share Rs. 1500+ State share Rs. 1500 + Beneficiary share Rs. 1500+ Rs. 4500/- year
North East and Himalayan States80:20 Centre and NE & Himalayan StatesCentre share Rs. 2400 + State share Rs. 600 + Beneficiary share Rs. 1500 = Rs. 4500/- year
Union Territories100% as Centre share for UTs (with legislature and without legislature)Centre share Rs. 3000 + Beneficiary share Rs.1500 = Rs.4500/-year

क्या होने चाहिए जरूरी कागजात? (What are the necessary Documents)

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana

अगर आप भी मछली पालक हैं या इस व्यवसाय से किसी भी तरह से जुड़े हुए हैं और प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana) का लाभ लेना चाहते हैं तो आपके पास कुछ जरूरी कागजात होने जरूरी हैं। जैसे कि :

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आवेदक का मछली पालन कार्ड

Beneficiaries

The intended beneficiaries under the Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana are:

  • Fishers
  • Fish farmers
  • Fish workers and Fish vendors
  • Fisheries Development corporations
  • SCs/STs/Women/Differently abled persons
  • State Governments/UTs and their entities including
  • State Fisheries Development Boards (SFDB)
  • Self Help Groups (SHGs)/Joint Liability Groups (JLGs) in fisheries sector
  • Entrepreneurs and private firms
  • Central Government and its entities
  • Fish Farmers Producer Organizations/Companies (FFPOs/Cs)

क्यों पड़ी इस योजना की जरूरत? (Why was this Plan Needed)

भाईयों! इस योजना को लागू करने का मकसद मछली पालन के क्षेत्र में व्याप्त कमियों को दूर करना है जिससे कि सभी मछली पालक अपनी पूरी क्षमता के साथ मछली का उत्पादन कर सकें।

इसके साथ ही सरकार का यह भी लक्ष्य है कि 2024-25 तक मछली पालन में 9% सालाना वृद्धि के साथ 22 मिलियन (220 लाख) मीट्रिक टन उत्पादन का लक्ष्य प्राप्त कर लिया जाए।

मिलेंगे रोजगार के बेहतर अवसर (Better Employment Opportunities will be given)

दोस्तों! इस Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana के तहत मछली पलकों को गुणवत्तापरक बीज प्रदान करने की योजना है ताकि वो उत्पादन में लगने वाला समय कम हो सके। प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana) के तहत मछली पालन के लिए बेहतर जलीय प्रबंधन की व्यवस्था भी की जायेगी जिससे मछली के उत्पादन में कोई दिक्कत न आये और मछलियां समय पर सही आकर ले सकें।

इस Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana के तहत मछली पलकों को उत्पादन में वृद्धि करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। जो भी किसान भाई मछली पालन करना चाहते हैं उन्हें भी सरकार की तरफ से इस Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana के माध्यम से लाभ देकर मछली पालन क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा दे रही है।

और भी जाने:

Leave a Comment

close