RGGBKMNY: राजीव गांधी भूमि कृषि मजदूर न्याय योजना क्या है? कैसे मिलेगा इसका लाभ, जाने विस्तार से

Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana: भारत में ऐसी कई योजना लागू है जिसके तहत गरीबों को सहायता दिया जाता है सरकार की ओर से और अब ऐसी ही एक योजना की शुरुआत की गई है राहुल गांधी के द्वारा, आपको बता दें गरीब भूमिहीनों के लिए ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय  योजना की शुरुआत की गई है छत्तीसगढ़ में। छत्तीसगढ़ राज्य में राहुल गांधी ने राजीव गांधी ग्रामीण कृषि मजदूर न्याय योजना ( Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Mazdoor Yojana) की शुभारंभ की है, इस योजना के तहत राज्य सरकार हर साल गरीब किसानों को 6000 रुपए प्रदान करेगी। 

Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana

Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर योजना के तहत हर साल आर्थिक रूप से कमजोर किसानों को ₹6000 प्रदान किया जाएगा। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम पर है इस योजना की शुरुआत की गई है। छत्तीसगढ़ राज्य में जितने भी भूमिहीन किसान हैं उनके बैंक खाते में राहुल गांधी ने पहले किश्त के पैसे सीधे पहुंचाएं हैं। 

3,55,000 किसानों को योजना के तहत शामिल किया गया 

आपको बता दें छत्तीसगढ़ राज्य में 300000 से भी ज्यादा परिवारों को इस योजना में शामिल किया गया है इनके पास कृषि भूमि नहीं है, जो अपने जीवन यापन मजदूरी करके बिताते हैं। आपको बता दें इस योजना के प्के लिए बजट में 200 करोड़ का प्रावधान रखा गया है। भूपेश सरकार की छत्तीसगढ़ राज्य में किसानों को ₹6000 का आर्थिक सहायता दिया जाएगा जिससे किसान अपनी जीवन यापन अच्छे से कर पाएंगे। 

इस योजना के तहत मजदूरों के बैंक खाते में हर साल तीन किस्तों में ₹6000 प्रदान किए जाएंगे, राहुल गांधी ने इस योजना की शुरुआत करते हुए 3 लाख 55 हजार लाभार्थियों के बैंक खाते में पहले किस्त के 2000 रुपए की राशि जमा कर दी है। 

कैसे मिलेगा मजदूरों को इसका लाभ 

इस योजना के लिए वह किसान आवेदन कर सकते हैं जिनके पास खेती के लिए जमीन नहीं है और वह मजदूरी करके अपना खर्चा उठाते हैं, मजदूरी करने वाले किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा भूमिहीन किसानों को तीन किस्तों में सालाना ₹6000 दिए जाएंगे, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस योजना की शुरुआत करते हुए कहा कि इस योजना से मैं यह नहीं कह रहा कि गरीबी कम हो जाएगी लेकिन इससे उन किसानों का बोझ थोड़ा हल्का होगा और इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर परिवारों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर परिवारों के अंतर्गत चरवाहा, बढ़ाई, लोहार, मोची, धोबी और पुरोहित जैसे पौने- पोसारी व्यवस्था से जुड़े परिवार  समय-समय पर नियत दूसरे वर्ग भी पात्र होंगे योजना के लिए। 

कैसे करें इस योजना में आवेदन ( How to Apply for Rajiv Gandhi Gramin Krishi Mazdoor Scheme)

राजीव गांधी ग्रामीण कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत आवेदन करने के लिए लाभार्थी के पास आधार कार्ड, वोटर आईडी, इनकम प्रूफ, भूमिहीन कृषि मजदूर दस्तावेज, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ और मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है। अगर आपके पास यह सब है तो आप राजीव गांधी ग्रामीण कृषि मजदूर न्याय योजना के आधिकारिक वेबसाइट Click To Apply Online पर जाकर आवेदन कर सकते हैं या फिर आप सीएससी सेंटर जाकर भी इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करने के बाद तहसीलदार द्वारा सत्यापित कराने के बाद आपका नाम सूची में आ जाएगा और इस योजना का लाभ मिलने लगेगा। 

Leave a Comment