Tax Saving Scheme: टैक्स बचाने के 5 आसान तरीके, यह है TOP 5 सरकारी स्कीम

Tax Saving Scheme: टैक्स बचाने के 5 आसान तरीके, यह है TOP 5 सरकारी स्कीम

Tax Saving Scheme: वित्तीय वर्ष 2022-2023 जल्दी खत्म होने वाला है ऐसे में अगर आप भी सोच रहे हैं कि आप टैक्स सेविंग करें तो जल्द ही आपको कर लेना चाहिए यह काम, हम आपको किस काम करने के लिए बता रहे हैं चलिए यहां जानते हैं।

Tax Saving Scheme

साल 2021 तो बीत चुका है, और जल्द ही वित्तीय वर्ष 2022-23 खत्म होने वाला है। केवल 80 दिन का वक्त आपके पास बचा है। इन 80 दिन के अंदर आपको क्या करना चाहिए हम आपको बताते हैं। अगर आपने टैक्स सेविंग का फैसला लिया है तो आपको 31 मार्च 2022 से पहले सरकारी स्कीम में निवेश कर लेना चाहिए।

दरअसल आप सरकारी सेविंग स्कीम में निवेश करके टैक्स सेविंग कर सकते हैं। इसके लिए आपको समय से पहले निवेश करना होगा और अपने निवेश से जुड़े जानकारी आयकर विभाग को सबूत (Investment Proof) के साथ देना होगा।

सरकारी सेविंग स्कीम में आपको आपके इन्वेस्टमेंट पर रिटर्न भी बेहद अच्छा मिलता है। इतना ही नहीं आपका निवेश किया हुआ पैसा सरकारी सेविंग स्कीम के तहेत बिल्कुल सुरक्षित रहता है। अगर आप टैक्स सेविंग करना चाहते हैं तो आप यहां जान लीजिए किन-किन सेविंग स्कीम पर आपको निवेश करना चाहिए।

सरकारी Tax Saving Scheme (GOVT. INVESTMENT SCHEME)

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम

अगर आप सीनियर सिटीजन है तो यह स्कीम आपके लिए बेहतर होगा। सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में निवेश करके आप टैक्स सेविंग कर सकते हैं।

इस सेविंग स्कीम में निवेश करने के लिए आप को बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस जाना होगा और अकाउंट खोलना होगा।  80C के तहत इस अकाउंट पर आपको इनकम टैक्स की छूट मिलती है। इस अकाउंट में आप अधिकतम सालाना 1.5 लाख तक निवेश कर सकते हैं, बता दे इसमें आपको 7.4 फीसदी ब्याज भी मिलेगी।

सुकन्या समृद्धि योजना

सुकन्या समृद्धि योजना में आप अपने बेटियों के नाम का अकाउंट खोल सकते हैं। इस अकाउंट में आप 10 साल के कम उम्र के बेटी का नाम का अकाउंट ओपन कर सकते है।

ये अकाउंट टैक्स सेविंग अकाउंट है जिसमे आपको टैक्स नहीं देना होता है। इस अकाउंट में आप 1.5 लाख सालाना जमा कर सकते हैं, साथ ही इसमें आपको 7.6 फीस दी सालाना ब्याज भी मिलेगा।

नेशनल पेंशन सिस्टम

यह एक सरकारी रिटायरमेंट सेविंग स्कीम है। इनकम टैक्स के सेक्शन 8 से कहते हैं इसमें आप 1.5 लाख रुपए के अलावा ₹50000 का अतिरिक्त बेनिफिट टैक्स ले सकते हैं।

इसमें आप कुल ₹200000 की छूट का फायदा उठा सकते हैं। ‌ नेशनल पेंशन सिस्टम का फायदा आजकल युवा उठा रहे हैं, अगर आप 18 से लेकर 65 साल के बीच में है तो आप इसमें खाता खोल सकते हैं, किसी भी बैंक में जाकर।

पब्लिक प्रोविडेंट फंड

पब्लिक प्रोविडेंट फंड भारत में सबसे ज्यादा पॉपुलर है। आपको बता दें यह एक टैक्स सेविंग स्कीम है सरकार की तरफ से। PPF में आप 1.5 लाख तक निवेश कर सकते हैं।

इसमें रखा हुआ पैसा कभी नहीं डूबेगा क्यों की इसमें आप को सरकार की ओर से गारंटी मिलती है। बता दे सरकार इसमें आपको सालाना 7.1 फीसदी ब्याज देती है, इसकी खास बात ये है कि इसमें भी आपको इनकम टैक्स की छुट मिलती है।

भारत में, सार्वजनिक भविष्य निधि सबसे लोकप्रिय कर बचत योजना है। आप पीपीएफ में 1.5 लाख तक का निवेश कर सकते हैं और आयकर छूट के साथ 7.1 प्रतिशत वार्षिक ब्याज का आनंद ले सकते हैं। यह लंबी अवधि की बचत के लिए पीपीएफ को एक बहुत ही आकर्षक निवेश विकल्प बनाता है।

इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम

यह एकमात्र म्यूच्यूअल फंड है जिसमें आपको आयकर विभाग की ओर से धारा 80C के तहत 1.5 लाख तक की टैक्स छूट मिलती है। ELSS में आपको सबसे कम साल यानी 3 साल की लॉक इन का समय मिलता है जो कि आपके लिए एक बेहतर विकल्प है।

ELSS फंड में 3 साल की लॉक-इन अवधि होती है, जो कि सेक्शन 80सी के तहत सभी टैक्स सेविंग विकल्पों में सबसे कम है। यह इसे पहली बार निवेश करने वालों और कर बचाने के इच्छुक लोगों के लिए एक बेहतर विकल्प बनाता है।

कम लॉक-इन अवधि के बावजूद, ELSS फंड शानदार रिटर्न देते हैं। वास्तव में, उन्होंने लंबे समय में अन्य कर-बचत विकल्पों से बेहतर प्रदर्शन किया है। यह पहली बार निवेश करने वालों के लिए सबसे अच्छे निवेश विकल्पों में से एक है।

अगर आप कम जोखिम और ज्यादा रिटर्न वाले टैक्स सेविंग निवेश विकल्प की तलाश में हैं तो ELSS आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प है।

और भी जाने:

Leave a Comment

close