Custard Apple Business Idea: सीताफल की खेती कर कमा सकते है लाखो में, ऐसे शुरू करे बिजनेस

Custard Apple Business Idea: सीताफल की खेती कर कमा सकते है लाखो में, ऐसे शुरू करे बिजनेस

Custard Apple Business Idea: खेती की बात करें तो सबसे पहले किसान का चेहरा उभरकर सामने आ जाता है। आज हम खेती से जुड़े एक बिजनेस आइडिया को आपके साथ शेयर करने वाले हैं जिसे शुरू करके आप खुशहाल जिंदगी बिता सकते हैं। जी हां हम सीताफल की खेती के बारे में बात कर रहे हैं। इस बिजनेस को शुरू करके आप सालाना लाखों में कमा सकते हैं।

Custard Apple Business Idea

Custard Apple Business Ideas

अगर आप ट्रेडीशनल खेती नहीं करना चाहते हैं तो आपके लिए बागबानी एक अच्छा विकल्प होगा, जिसे आजकल कई किसान आजमा रहे है और अच्छा खासा इनकम कर रहे है।

बता दे गुजरात के रहने वाले मनसुख दुधात्रा पिछले कुछ सालों से सीताफल, अनार, पपीते जैसी फलो को उगा रहे है और बेच रहे है, वो अपनी फॉलो को दूसरे स्टेट में भी सेल करते है।

यहां तक उन्होंने अपना फल इंटरनेशनल मार्केट में पहोचाया है। जब मनसुख से बात की गई तो उन्होंने बताया कि वह पहले देसी सीताफल का खेती करते थे।

लेकिन उनसे उन्हें कोई मुनाफा नहीं मिल पाया, पर जब उन्होंने हाइब्रिड (Hybrid) किस्म की खेती शुरू की तो उनको लाभ हुआ, उन्होंने कहा कि प्रोडक्शन भी पड़ गया था इसके बाद और फूलों का वजन भी काफी बढ़ गया था।

उन्होंने काफी मार्केटिंग की और बाद में मुनाफा दुगनी हो गई, आजकल उनकी 10 लाख तक सालाना आमदनी होती है। मनसुख के बेटे का कहना है की उनके पिता ने केबल 10000 से ये बिजनेस शुरू किया था और आज लाखो में इनकम हो रही है। आइए जानते है इस खेती के बिजनेस को केसे शुरू किया जा सकता है।

कैसे करनी है सीताफल की खेती 

  • सीताफल की खेती किसी भी तरह की मिट्टी में हो सकती है, ध्यान रखें कि इस की खेती जलभराव काली चिकनी मिट्टी में नहीं होगी 
  • साल के बीचो-बीच यानी जुलाई के महीने में इसकी प्लांटिंग (Planting) करें तो आपके लिए फायदेमंद साबित होगा
  • गर्मी के मौसम में हर 15 दिन में सिंचाई करनी चाहिए
  • पेंटिंग के 2 से 3 साल बाद प्लांट से फल तैयार हो जाता है
  • अगर आप दोमट मिट्टी में प्लांटिंग कर रहे हैं तो प्रोडक्शन ज्यादा होने की संभावना है
  • गर्म और ड्राई क्लाइमेट में इसकी उपज काफी अच्छी होती है 

सीताफल में भरपूर मात्रा में विटामिन सी, विटामिन बी 6, कैल्शियम, मैग्नीशियम और आयरन जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, और इस वजह से सीताफल की डिमांड भारत समेत दुनिया भर में काफी ज्यादा है। 

सीताफल के पौधों को कैसे लगाएं (How To Plant Custard Apple)

कस्टर्ड सेब एक उष्णकटिबंधीय फल है जो भारत के कई हिस्सों में उगाया जाता है। इस स्वादिष्ट फल की बाजार में बहुत मांग है, और इस प्रकार, किसान कस्टर्ड सेब उगाकर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

How To Plant Custard Apple

कस्टर्ड सेब की खेती के कई तरीके हैं, और सबसे आम है ग्राफ्टिंग। ग्राफ्टिंग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें एक पेड़ की एक शाखा को दूसरे पेड़ के तने पर ग्राफ्ट किया जाता है। इस विधि का उपयोग नए पेड़ बनाने के लिए किया जाता है जिनमें मूल पेड़ के समान गुण होते हैं।

ग्राफ्टिंग वांछित कस्टर्ड सेब के पेड़ से एक कली या अंकुर लेकर दूसरे पेड़ के तने पर ग्राफ्टिंग करके की जाती है। ग्राफ्ट किया गया पौधा फिर कुछ वर्षों के भीतर फल देना शुरू कर देगा।

कस्टर्ड सेब की खेती की दूसरी विधि बीज प्रसार के माध्यम से है। इस विधि में किसानों को कस्टर्ड सेब के बीजों को अच्छी तरह से तैयार क्यारियों में बोना चाहिए। अंकुरण के बाद, पौधों को फिर मुख्य खेत में प्रत्यारोपित किया जाता है।

कस्टर्ड सेब के पेड़ों को अपनी वृद्धि के लिए गर्म और आर्द्र जलवायु की आवश्यकता होती है। उन्हें अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी की भी आवश्यकता होती है जो कार्बनिक पदार्थों से भरपूर हो। कस्टर्ड सेब के पेड़ लगाने का आदर्श समय बरसात के मौसम में होता है।

किसान रोपण के समय से 3 से 4 साल के भीतर कस्टर्ड सेब की फसल की उम्मीद कर सकते हैं। प्रत्येक पेड़ एक वर्ष में लगभग 50 से 60 किलोग्राम फल दे सकता है। आम तौर पर फलों की कटाई अक्टूबर और नवंबर के बीच की जाती है।

कस्टर्ड सेब लगाने के लिए कदम:

  1. सबसे पहले पौधों का निरीक्षण कर ले कोई पौधा अगर खराब हो तो उसे निकाल ले
  2. पौधों को नर्सरी से लगाने की जगह पर ही लाए
  3. हर एक गड्ढे के साथ एक पौधा रखते जाए
  4. शाम के समय ही पौधा रोपण करें
  5. पौधे को फरवरी-मार्च या फिर जुलाई-अगस्त महीने में लगाए 

पैदावार और लाभ (Profit from Custard Apple Farming) 

कस्टर्ड सेब एक उष्णकटिबंधीय फल है जो भारतीय उपमहाद्वीप का मूल निवासी है। फल को अन्य नामों से भी जाना जाता है जैसे सीताफल, शरीफा और अटाफ्रूट। कस्टर्ड सेब भारत के कई हिस्सों में उगाए जाते हैं, जिनमें महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और केरल शामिल हैं।

1 एकड़ में कम से कम आप 500 सीताफल के पौधे लगा सकते हैं। शरीफा के पौधों में कम से कम 50 से 60 फल लगते हैं। इस तरह सालाना आपको 30 से 35 क्विंटल पैदाबार मिलती है। अगर कमाई की बात करें तो शरीफा के भाव बाजार में ₹40 रुपए के आसपास  रहता है, आप एक एकड़ में से 1 से लेकर 1.5 लाख तक सालाना कमा सकते है। 

और भी जाने:

Leave a Comment